कर्मचारी निरीक्षण एकक

कर्मचारी निरीक्षण एकक की स्‍थापना 1964 में सरकारी संगठनों की स्‍टाफ-व्‍यवस्‍था में प्रशासनिक दक्षता के अनुरूप मितव्‍ययिता सुनिश्‍चित करने तथा सरकारी कार्यालयों और सरकारी अनुदानों पर पूर्णत: अथवा काफी हद तक निर्भर संस्‍थानों में निष्‍पादन मानक और कार्य मानदंड विकसित करने के उद्देश्‍य से की गई थी। वैज्ञानिक और तकनीकी संगठन कर्मचारी निरीक्षण एकक के कार्यक्षेत्र में नहीं आते अपितु संबंधित विभाग के ‘अध्‍यक्ष’ द्वारा गठित समिति जिसमें कर्मचारी निरीक्षण एकक के प्रतिनिधि ‘प्रमुख सदस्‍य’ होते हैं, ऐसे संगठनों का अध्‍ययन करती है।

वित्‍त सलाहकार व्‍यय विभाग में कर्मचारी निरीक्षण एकक और अन्‍य मंत्रालयों/विभागों/ कार्यालयों/संगठनों के बीच मुख्‍य कड़ी होते हैं। कर्मचारी निरीक्षण एकक द्वारा स्‍टाफ-व्‍यवस्‍था अध्‍ययन के सभी अनुरोध विभागों में संबंधित वित्‍त सलाहकारों के माध्‍यम से भेजे जाते हैं। ‘अध्‍ययन रिपोर्टें’ कर्मचारी निरीक्षण एकक अध्‍ययन दल द्वारा इन संगठनों के वरिष्‍ठ अधिकारियों के साथ विचार-विमर्श करने और कर्मचारी निरीक्षण एकक की अनंतिम मूल्‍यांकन रिपोर्ट को अंतिम रूप दिए जाने के पश्‍चात्‍ ‘उसी स्‍थान पर’ किए गए कार्य मापन अध्‍ययन के बाद जारी की जाती हैं। संबंधित विभाग द्वारा कर्मचारी निरीक्षण एकक की अंतिम रिपोर्ट को इस संबंध में दिए गए निर्देशों के अनुसार तीन माह की निर्धारित अवधि के अंदर कार्यान्‍वित किया जाना अपेक्षित होता है।
कर्मचारी निरीक्षण एकक विभिन्‍न केन्‍द्रीय सरकारी संगठनों, केन्‍द्र सरकार के मंत्रालयों/विभागों के तहत कार्य कर रहे स्‍वायत्‍त निकायों का भौतिक निरीक्षण/अध्‍ययन संबंधित मंत्रालय/विभाग के ‘वित्‍त सलाहकार’ के अनुरोध पर करता है। ये अध्‍ययन निर्धारित प्रक्रियाओं के अनुपालन के पश्‍चात्‍ वार्षिक कार्यक्रम में शामिल किए जाने के बाद किए जाते हैं। पिछले वार्षिक कार्यक्रम अर्थात्‍ 2018-19 में कर्मचारी निरीक्षण एकक ने विभिन्‍न संगठनों के 07 अध्‍ययन किए और उन्‍हें ‘अंतिम रिपोर्ट’ जारी की, जो इस प्रकार हैं:
1) दक्षिणी क्षेत्र कृषि मशीनरी प्रशिक्षण एवं परीक्षण संस्‍थान, अनंतपुर, आंध्र प्रदेश।
2) वाणिज्‍य विभाग के तहत विशेष आर्थिक जोन।
3) आवासन और शहरी कार्य मंत्रालय के तहत भूमि एवं विकास कार्यालय का स्‍टाफ-व्‍यवस्‍था संबंधी अध्‍ययन।
4) आवासन और शहरी कार्य मंत्रालय के तहत सम्‍पदा निदेशालय के क्षेत्रीय कार्यालयों का कार्य मापन अध्‍ययन।
5) स्‍वास्‍थ्‍य एवं परिवार कल्‍याण मंत्रालय के तहत राष्‍ट्रीय क्षय एवं श्‍वसन रोग संस्‍थान का कार्य मापन अध्‍ययन।
6) गृह मंत्रालय के तहत स्‍थानीय लेखापरीक्षा विभाग, चंडीगढ़ प्रशासन का अध्‍ययन।
7) महिला एवं बाल विकास मंत्रालय के तहत राष्‍ट्रीय महिला आयोग का स्‍टाफ-व्‍यवस्‍था संबंधी अध्‍ययन (अंतिम रिपोर्ट जारी की जानी है)।
कर्मचारी निरीक्षण एकक के अधिकारियों को वैज्ञानिक और तकनीकी संगठन नामत: (i) पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्रालय, नई दिल्‍ली (ii) इलेक्‍ट्रॉनिक्‍स एवं सूचना प्रौद्योगिकी विभाग, नई दिल्‍ली (iii) विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग (iv) केन्‍द्रीय जल आयोग, नई दिल्‍ली की जनशक्‍ति आवश्‍यकता का मूल्‍यांकन करने के लिए संबंधित विभागों द्वारा गठित चार समितियों में ‘प्रमुख सदस्‍य’ के रूप में नामित किया गया था।
वर्तमान में कर्मचारी निरीक्षण एकक का कार्य देखने वाले अधिकारियों की सूची इस प्रकार है:

अपर सचिव (कार्मिक)
फोन: 23093283
फैक्‍स: 23092652

उप सचिव (एसआईयू)
टेलीफैक्‍स: 24617753

उप सचिव (एसआईयू)
फोन: 24697551

अवर सचिव (एसआईयू)
फोन: 24611032

अवर सचिव (एसआईयू)
फोन: 24617705

अवर सचिव (एसआईयू)
फोन: 24627920